पाइल्स सर्जरी के बाद तेजी से ठीक होने के लिए रखे ये 5 बातो का ध्यान

पाइल्स सर्जरी

बवासीर (Piles in Hindi) एक आम चिकित्सीय स्थिति है। गुदा और इसके आस-पास के क्षेत्र में बनने वाली सूजी हुई रक्त वाहिकाओं की गांठों को बवासीर (haemorrhoids) के रूप में जाना जाता है। ये मलाशय या गुदा गुहा पर अत्यधिक दबाव के कारण बनते हैं। जबकि बवासीर के उपचार (treatment of piles in Hindi) के अधिकांश मामले गैर-सर्जिकल तरीकों से हो सकते हैं, कुछ मामलों में बवासीर सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है। पाइल्स के कारणों, लक्षणों और उपलब्ध उपचार विकल्पों को समझना यह निर्धारित करने के लिए आवश्यक है कि क्या सर्जरी (piles surgery in Hindi) आवश्यक है और इस स्थिति को सर्वोत्तम तरीके से कैसे प्रबंधित किया जाए।

और पाइल्स विशेषज्ञ (Piles Doctor in Hindi) स्थिति की गंभीरता को समझने में सहायता करेंगे और विभिन्न कारणों  पर विचार करते हुए पाइल्स के लिए प्रभावी उपचार भी सुझाएंगे। डॉ. एस.एन. बेसर भारत में बवासीर (Best Piles Doctor in India) के लिए सबसे अच्छे डॉक्टरों में से एक हैं।

चिकित्सा क्षेत्र में प्रगति के कारण बवासीर के लिए सर्जरी कराना निस्संदेह कम कठिन है, और लेजर सर्जरी भी बवासीर (Laser Piles Surgery) के लिए एक प्रभावी उपचार है।

बल्कि, सफल परिणाम सुनिश्चित करने के लिए ऑपरेशन के बाद की देखभाल पर उचित ध्यान दिया जाना चाहिए।

यहां पाइल्स सर्जरी के बाद होने वाले  कुछ शारीरिक बदलाव की बात करेंगे जिन पर ध्यान देने की आवश्यकता है और इससे रिकवरी (Piles recovery) भी तेजी से होगी।

पाइल्स के ऑपरेशन के बाद 5 बातों का ध्यान रखना जरूरी है

दर्द से राहत (Pain relief)

सर्जरी के बाद, गुदा क्षेत्र (anal region) पीड़ादायक और बेहद संवेदनशील होगा। पहले कई हफ्तों के दौरान, आपको जितना संभव हो उतना आराम करना चाहिए और जितना संभव हो उतना कम चलना चाहिए। जब आप कठोर मल त्यागने के लिए दबाव डालते हैं, तो दर्द की तीव्रता काफी बढ़ सकती है।

असुविधा से राहत के लिए गर्म पानी से सिट्ज़ स्नान की सिफारिश की जा सकती है।

सिट्ज़ बाथ (Sitz Bath) एक छोटा बेसिन है जो गर्म पानी से भरा होता है जिस पर आप दर्द से राहत पाने के लिए बैठ सकते हैं। जब आपको कुर्सी या बिस्तर पर बैठने की आवश्यकता हो, तो अपने एनोरेक्टल क्षेत्र पर दबाव डालने से बचने के लिए डोनट के आकार के कुशन का उपयोग करें।

दिन में कई बार 10 मिनट तक बर्फ लगाने से दर्द कम हो सकता है। सूजन कम करने के लिए अपने कूल्हों के नीचे तकिया रखकर पेट के बल लेटने का प्रयास करें।

खून निकलना (Bleeding)

लेजर से बवासीर की सर्जरी (Piles Surgery with Laser) के बाद थोड़ा खून निकलना सामान्य है। विशेष रूप से मल त्याग के बाद, आप अपने जांघिया (Underwear) पर या अपने मल में रक्त पा सकते हैं। ऐसा होना  आपके ऑपरेशन के बाद 48 से 72 घंटों तक यह सामान्य है।

लेकिन अगर आपको बड़ी मात्रा में खून दिखे तो अपने डॉक्टर को बताएं। यदि आपके शरीर में रक्त के थक्के जम रहे हैं, तो अपने सर्जन को बताएं, जब तक कि उन्होंने आपको इसकी अपेक्षा करने का निर्देश न दिया हो।

संक्रमण (Infection)

सर्जिकल प्रक्रियाओं से संक्रमण की संभावना हमेशा बनी रहती है। सर्जिकल साइट से गुजरने वाले या उसके संपर्क में आने वाले मल से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

संक्रमण के लक्षणों से सावधान रहें, जो बुखार जैसे व्यापक लक्षणों से लेकर दर्दनाक फोड़े जैसे अधिक विशिष्ट लक्षणों तक हो सकते हैं। अपने डॉक्टर को सूचित करें ताकि आप उचित उपचार प्राप्त कर सकें।

मल असंयम (Fecal incontinence)

यह मल त्याग को नियंत्रित न कर पाने की स्थिति है। मलाशय से बिना किसी चेतावनी के मल का रिसाव होना। आपको दर्द के अलावा हल्का मल असंयम भी विकसित हो सकता है। ऐसा तब होता है जब गुदा के आसपास की मांसपेशियां क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।

लेकिन बवासीर के ऑपरेशन (Piles operation in Hindi) में कोई भी मांसपेशी क्षतिग्रस्त नहीं होगी इसलिए यह एक अस्थायी समस्या है और उपचार प्रक्रिया के दौरान दूर हो जाती है।

आहार में कुछ बदलाव और सरल व्यायाम इस समस्या को रोकने में मदद कर सकते हैं। लेकिन, अगर दवा के बाद भी समस्या में सुधार नहीं होता है, तो आपकोपाइल्स स्पेशलिस्ट से बात करनी चाहिए।

कब्ज़ (Constipation)

बवासीर की सर्जरी के बाद गंभीर कब्ज होना आम बात है। यह गुदा संकुचन (गुदा नलिका का सिकुड़ना) या ऊतक की चोट के कारण होता है। बवासीर से दूर रहने के लिए फाइबर युक्त भोजन हमेशा अच्छा होता है। कब्ज को रोकने के लिए फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ खाना और बहुत सारे तरल पदार्थ पीना आवश्यक है।

चूंकि फाइबर को मानव शरीर द्वारा पचाया नहीं जा सकता है, यह मल में वजन जोड़ता है, जिससे मलत्याग आसान हो जाता है।

इससे तनाव कम होता है, स्थिरता अधिक होती है और कब्ज से बचाव होता है। स्ट्रॉबेरी, नाशपाती, संतरे, ब्रोकोली, पालक, आलू (छिलके सहित), गाजर, राजमा, छोले, बादाम, मूंगफली, अलसी आदि उच्च फाइबर खाद्य पदार्थों के रूप में जाने जाते हैं जो कब्ज को रोकने में मदद करते हैं। इनके साथ-साथ प्रचुर मात्रा में तरल पदार्थ लेने की जरूरत होती है।

यदि आप उपर्युक्त लक्षणों में से किसी का भी अनुभव कर रहे हैं तो हमेशा सलाह दी जाती है कि आप अपने सर्जन से परामर्श लें और आगे की जटिलताओं को कम करें। और यदि कोई भी जटिलता उत्पन्न नहीं होती है तो ठीक होने में लगने वाला समय बहुत कम होगा।

पाइल्स सर्जरी से ठीक होने में कितना समय लगता है?

हेमोराहाइडेक्टोमी (haemorrhoidectomy in Hindi) से उबरना एक कठिन प्रक्रिया हो सकती है। उपचार की सीमा के आधार पर, पाइल्स लेजर सर्जरी से ठीक होने में 1-6 सप्ताह तक का समय लग सकता है।

निकाले गए बवासीर की संख्या और उनका आकार दो कारक हैं जो उपचार के समय को प्रभावित कर सकते हैं।

पुनर्प्राप्ति चरण के दौरान, आपको गंभीर दर्द का अनुभव हो सकता है जो प्रक्रिया के 1-4 सप्ताह बाद तक रहता है, जो पहले सप्ताह के अंत तक सुधरना शुरू हो जाता है।

2-3 सप्ताह के बाद, बवासीर की सर्जरी कराने वाले कई मरीज़ अपनी नियमित दिनचर्या फिर से शुरू कर सकते हैं, और प्रक्रिया के एक सप्ताह बाद, वे हल्के व्यायाम (लेकिन वजन प्रशिक्षण नहीं) में संलग्न हो सकते हैं।

भले ही पाइल्स सर्जरी से ठीक होने में लगभग एक महीना लगता है, आप पहले  सप्ताह से ही फिर से काम करना शुरू कर सकते हैं।

बवासीर की सर्जरी के बाद मुझे डॉक्टर को कब बुलाना चाहिए?

यदि आपको पाइल्स सर्जरी के बाद निम्नलिखित में से कोई भी जटिलता हो, तो तुरंत अपने सर्जन से संपर्क करें:

  • अत्यधिक असुविधा (दर्द की दवा असुविधा को पूरी तरह से समाप्त नहीं कर सकती है)
  • शल्य चिकित्सा स्थल से अत्यधिक सूजन या रक्तस्राव
  • चीरे के चारों ओर लालिमा और गर्मी
  • 101.5 F से ऊपर तापमान
  • सर्जरी के 8 घंटे के भीतर पेशाब करने में असमर्थता

Interesting Reads

निष्कर्ष

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के सफल और प्रभावी उपचार को सुनिश्चित करने के लिए सर्वश्रेष्ठ सर्जन का चयन एक महत्वपूर्ण घटक है। हर्ष हॉस्पिटल एंड मैटरनिटी होम, सूरत के एक मल्टी-स्पेशियलिटी अस्पताल (multi-specialty hospital in Surat) में पाइल्स के सबसे अच्छे डॉक्टर हैं, जिन्होंने बवासीर और फिस्टुला (Fistula in Hindi) और फिशर (Fissures in Hindi) जैसी अन्य एनोरेक्टल समस्याओं के लिए 10000 से अधिक लेजर सर्जरी की हैं।

पाइल्स विशेषज्ञों की हमारी अनुभवी टीम उच्चतम गुणवत्ता वाली देखभाल प्रदान करने और यह सुनिश्चित करने में मदद करने के लिए यहां है कि आपको सर्वोत्तम उपचार मिले।

अपनी स्वास्थ्य समस्या के बारे में हमारे पाइल्स सर्जन से बात करने के लिए आज ही हमें +91-9638593366 या +91 261-2781652 पर कॉल करें।

Share Now!

Consult Us!

Latest Articles

Need Medical Consultation?

Here is what people have to say about us on Google Reviews…

Vikas Cherry Durga
Vikas Cherry Durga
10. January, 2024.
Very nice and wel treatment
Rajkumar Borana
Rajkumar Borana
4. January, 2024.
Hospital facilities is good, doctors and staff very care patient
Paras Soni
Paras Soni
3. January, 2024.
Harsh hospital reviews are good & all facilities are very well..
Haji musa Khatri
Haji musa Khatri
30. December, 2023.
Dr.purva Patel is very good surgeon. All Hospital staff is very co-operative
Nasruddin Khatri
Nasruddin Khatri
26. December, 2023.
All good facilities available in hospital Staff and doctor are very Care fully

Book Your Slot!

Free Consultation for your Piles Problem.